वाराणसी में साड़ी कारखाने में खाना बनाते समय लगी आग, बिहार के अररिया के दो कामगार समेत चार की मौत

प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, वाराणसी

शहर के अशफाक नगर कमच्छा क्षेत्र में गुरुवार की दोपहर 12 अचानक साड़ी के कारखाने में सिलेंडर से आग लगने के बाद चार लोगों की जलकर मौत हो गई। सिलेंडर से आग लगने की जानकारी होने के बाद आस पड़ोस में हड़कंप मच गया और हादसे में कारखाने में काम कर रहे चार लोगों की मौत हो गई।

पड़ोसियों के अनुसार कारखाने में खाना बनाते समय संभवत: आग लगने की वजह से हादसा हुआ और आग लगने के साथ ही लपटें तेज हो गईं। दहशत में आस पड़ोस के लोग भी बाहर निकल आए और राहत व बचाव कार्य शुरू किया गया। वहीं हादसे की जानकारी होने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने भी स्‍थानीय लोगों के सहयोग से आग पर काबू पाया। 

वाराणसी में मोहल्ला अशफाक नगर में एक साड़ी फिनिशिंग का कार्य करने वाले कारखाने में कुछ कामगार रहकर भोजन बना रहे थे। इस दौरान लगभग 11:30 से 11:45 बजे के बीच वहां रखी सामग्री में आग लग गई। आग की वजह संभवत: सिलेंडर या बिजली के तारों में आग लगना बताया जा रहा है। 

वहीं आग लगने के बाद कमरे के अंदर कार्य करने वाले चार लोग आग से बुरी तरह से घिर गए और बाहर नहीं निकल पाये। संभवत: आग की जद में आने के बाद दम घुटने से सभी वहीं फंस गए और झुलसने से आग की चपेट में आने के कारण सभी चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। 

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार आग लगने की जानकारी होने के बाद मोहल्ले वालों ने संकरी गली स्थित कारखाने के कमरे में किसी तरह पानी डाल कर भीषण आग पर काबू पाया। आग बुझाने के बाद गैस सिलेंडर को बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया। वहीं सतर्कता की वजह से आग किसी और के घर में नहीं पहुंच सकी। वहीं संकरी गली में आमने सामने कई घर मौजूद होने के साथ ही लोगों की सजगता से आग पर किसी तरह काबू पाया जा सका। 

स्‍थानीय लोगों के अनुसार आग में घिरे चारों व्यक्तियों की दुःखद मृत्यु कमरे के अंदर ही आग बुझने से पहले ही हो चुकी थी। वहीं आग की जद में आए सभी लोगों का शव बुरी तरह झुलसा हुआ बरामद किया गया।वहीं हादसे की जानकारी होते ही वरिष्ठ अधिकारी भी पहुंचे और हादसे का जायजा लिया। 

प्रशासन के अनुसार साड़ी फिनिशिंग के 12X10 फुट के कमरे में साड़ी के साथ ही फोम और फिनिशिंग सामग्री रखी हुई थी। सभी सामग्री सिंथेटिक होने की वजह से आग कमरे में काफी तेजी से फैल गयी और आग रोकने के प्रयास में चारों लोग बाहर निकल ही नहीं पाए और जलकर उनकी मृत्‍यु हो गई।

इस दुखद हादसे में मदनपुर के 45 वर्ष के एक व्यक्ति और उनका 22 वर्ष का पुत्र, अररिया बिहार के रहने वाले 18 वर्ष और 17 वर्ष के दो साड़ी का काम करने वाले कामगार युवकों की मौत हो गई। जिला प्रशासन के अनुसार शाम तक सभी का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया जाएगा। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने वाराणसी के गैस सिलेंडर हादसे से जनहानि पर शोक जताया है। मुख्‍यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को चार लाख रुपए राहत राशि देने के निर्देश भी जारी किए हैं।

इन चार की मौत

हादसे में साड़ी फिनिशिंग का काम करने वाले वाराणसी के मदनपुरा निवासी आरिफ जमाल और उनके बेटे मोहम्मद शाबान, बिहार के अररिया निवासी दो कारीगर एजाज और मुन्तशिर की मौके पर ही मौत हो गई।

Post a Comment

0 Comments