Breaking News Kanpur : पान मसाला की पैकेजिंग करने वाली तीन फर्मों पर वाणिज्य कर का छापा

 


प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर


उत्तर प्रदेश की औद्योगिक नगरी कानपुर के कारोबारियों की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। पहले आयकर विभाग और जीएसटी इंटेलिजेंस की कार्रवाई हुई। अब वाणिज्य कर विभाग ने छापेमारी की कार्रवाई शुरू कर दी है। इस कड़ी में मंगलवार को पान मसाला बनाने वाली कंपनियों को पैकेजिंग मैटेरियल सप्लाई करने वाली तीन फर्मों के चार स्थानों पर वाणिज्य कर विभाग ने छापा मारा। इन कंपनियों के यहां स्टाक रजिस्टर में दर्ज माल की तुलना में कम या अधिक मिला। अधिकारियों ने फजलगंज स्थित कंपनी पर 34 लाख का टैक्स व जुर्माना लगाया है। वहीं दो फर्मों पर जांच जारी है।


वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों को जानकारी मिली थी कि पान मसाला के पैकेजिंग मैटेरियल बनाने वाली कंपनियां चोरी छुपे बिना टैक्स चुकाए पान मसाला कंपनियों को पैकेजिंग मैटेरियल सप्लाई करती हैं। ये कंपनियां लिखा पढ़ी में पैकिंग मैटेरियल को सप्लाई नहीं करतीं हैं इसलिए यह पता नहीं चल पाता कि पान मसाला कंपनियां कितना माल बनाकर के आगे बिक्री कर रही हैं। इसी के चलते मंगलवार को चार टीमें बनाकर एडीशनल कमिश्नर ग्रेड वन पीके सिंह, ग्रेड दो बृजेश मिश्रा वह अरविंद मिश्रा के निर्देश पर छापे मारे गए। 


कपूर पैक प्रिंट प्राइवेट लिमिटेड में संयुक्त आयुक्त सुशील कुमार सिंह, डीके वर्मा, उपायुक्त चंद्रशेखर ने छापा मारा। यहां पर भारी मात्रा में स्टॉक अधिक मिला। कंपनी ने ब्याज और जुर्माना की राशि तुरंत जमा कर दी। कपूर फ्लैक्सिबल पैकेजिंग प्राइवेट लिमिटेड में टीम को अब तक 70 लाख से अधिक के माल ज्यादा मिला है। इसके अलावा भी की जा रही है।


अधिकारियों ने लेटेक्स केमिकल प्राइवेट लिमिटेड के 2 प्रतिष्ठानों पर छापा मारा। यहां संयुक्त आयुक्त कमलेश के नेतृत्व में छापा मारा गया। यहां अधिकारियों को कच्चे पर्चे पर माल बेचने के सबूत मिले हैं। अधिकारियों ने कच्चे पर्चों को अपने कब्जे में कर लिया है। कपूर फ्लैक्सिबल प्राइवेट पैकेजिंग प्राइवेट लिमिटेड और लेटेस्ट केमिकल के दोनों प्रतिष्ठानों में छापे की कार्रवाई जारी है।

Post a Comment

0 Comments