In Kanpur 140 couples including three Muslims who got married : एक दूजे के हुए तीन मुस्लिम समेत 140 जोड़े

सामूहिक विवाह सम्मेलन में एक ही पंडाल के नीचे हुआ हिन्दू व मुस्लिम जोड़ों का विवाह



प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर


जिले के बिधनू विकास खंड के कठेरुआ गांव स्थित गेस्टहाउस में शनिवार को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें तहसील क्षेत्र के बिधनू, घाटमपुर, पतारा, भीतरगांव के 140 जोड़े विवाह के बंधन में बंधे। नवदंपति ने एक साथ जीने मरने की कसमें भी खाई। इस कार्यक्रम में तीन मुस्लिम व एक विधवा महिला का भी विवाह कराया गया। 



एक पंडाल में वैदिक मंत्र व निकाह कुबूल


इस सामूहिक विवाह सम्मेलन की खासियत यह रही कि एक ही पंडाल में एक तरफ आचार्य ने 154 हिन्दू जोड़ों का वैदिक मंत्रों के बीच हिंदू रीति रिवाज से विवाह कराया। वहीं, दूसरी तरफ मौलवी ने तीन मुस्लिम जोड़ों को निकाह पढ़ाकर शादी कबूल कराई। 


इन गणमान्य ने दिया आशीर्वाद



मुख्य अतिथि बिठूर विधायक अभिजीत सिंह सांगा, जिला विकास अधिकारी जीपी गौतम, जिला समाज कल्याण अधिकारी डा. प्रज्ञा पांडेय, खंड विकास अधिकारी बिधनू- पतारा अंजली सरोज ने नवदंपति जोड़ों को सरकार की ओर से निर्धारित सभी गृहस्थी उपयोगी समान भेंट कर सुखी दांपत्य जीवन के लिए आशीर्वाद दिया। इस मौके पर एडीओ पंचायत अतुल शुक्ल, उदयवीर सिंह, समाज कल्याण अधिकारी गजेंद्र मिश्र, मौजूद रहे।



22 नवदंपति ने लगवाई वैक्सीन


मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह के दौरान पंडाल में स्वास्थ्य विभाग ने वैक्सिनेशन सेंटर बना रखा था। जिसमे 22 जोड़ों ने सात फेरे लेने के बाद कोविड वैक्सीनेशन भी कराया। 


रुपये न देने पर एक जोड़े को किया वापस


सामूहिक विवाह के दौरान सेनपूरब पारा निवासी मजदूर कालीशंकर ने बताया कि उनकी 19 वर्षीय बेटी दिव्यांशी का विवाह नौरंगा निवासी सुरेंद्र कुमार के बेटे भूपेंद्र के सात सुनिश्चित किया था। आर्थिक रूप से कमजोर होने पर मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पंजीकरण कराया था। शनिवार को निर्धारित समय पर कार्यक्रम स्थल में वह वर पक्ष के साथ पहुंचे। आरोप है कि ग्राम विकास अधिकारी सुशील वर्मा ने कुछ खर्च करने पर जल्द विवाह कराने की बात कही। असमर्थता दिखाने पर कार्यक्रम स्थल से लौटा दिया। समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि शनिवार सुबह ही पंजीकरण होने की वजह से विवाह नहीं हो सका। रुपये मांगने का आरोप गलत है।


इन क्षेत्रों से आए युवक युवतियां


सामूहिक विवाह समारोह में पतारा विकास खंड से 38 जोड़े, घाटमपुर 36, भीतरगांव 15, बिधनू 42, घाटमपुर नगर पालिका से 9 जोड़े शामिल हुए। कुल 140 जोड़ों का विवाह हुआ।

Post a Comment

0 Comments