Big News : गाजीपुर में मुख्तार की पत्नी-बेटों के होटल पर चला बुलडोजर

  • होटल के दूसरे तल, सीढ़ी व अन्य अतिक्रमण के हिस्से को किया गया ध्वस्त
  • छावनी में तब्दील रहा इलाका, आला अधिकारी व पीएसी जवान रहे मुस्तैद

प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, मऊ



जिले के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी एवं बेटों के नाम से गाजीपुर में संचालित गजल होटल पर सुबह 6.38 बजे बुलडोजर गरजने लगा। होटल के दूसरे तल, सीढ़ी व अन्य अतिक्रमण के हिस्से को एडीएम एवं एसपी सिटी की देखरेख ध्वस्त किया गया।



शनिवार देर शाम जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बोर्ड ने मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों की अपील खारिज कर दी थी। उसके बाद से गजल होटल को खाली कराने का कार्य शुरू हो गया। इसको लेकर महुआबाग इलाके में रात भर अफरा-तफरी रही। सुबह जिला प्रशासन ने गजल होटल पर बुलडोजर चलने लगा। गजल होटल के समीप रविवार सुबह से आला अफसरों के साथ पुलिस एवं पीएसी जवानों का जमावड़ा शुरू हो गया। जिला प्रशासन ने पांच पोकलेन मशीनों के जरिए गजल होटल के ध्वस्तीकरण का कार्य शुरू कर दिया। 



गजल होटल के आसपास का इलाका पुलिस छावनी में तब्दील रहा है। आठ अक्टूबर को गजल होटल को ध्वस्त करने का आदेश उप जिलाधिकारी प्रभास कुमार ने दिया था। एसडीएम कोर्ट ने गजल होटल के दूसरे तल, सीढी तथा अवैध हिस्सों को गिराने का आदेश दिया था। 


इस आदेश के खिलाफ होटल संचालक ने हाईकोर्ट में अपील की थी। हाईकोर्ट में सुनवाई के बाद पुनः डीएम कोर्ट में अपील करने का आदेश दिया था। डीएम की अगुवाई में बोर्ड में मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों की अपील खारिज करते हुए एसडीएम के आदेश को बहाल कर दिया। 


रविवार सुबह होटल को गिराते समय एडीएम राजेश कुमार के आलावा सदर एसडीएम प्रभास कुमार, जखनियां एसडीएम सूरज यादव, अतरिक्त एसडीएम, एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी, सीओ सिटी ओजस्वी चावला, महमूद अली मौजूद रहे। रविवार सुबह 6.38 बजे पांच पोकलेन से दूसरे तल के ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई। कार्रवाई के दौरान महुआबाग तिराह से मिश्र बाजार तक बैरिकेडिंग की गई है।


Post a Comment

0 Comments