Up Update : प्रदेश में युद्ध स्तर पर सड़कें हो रहीं गड्ढामुक्त

  • उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या के निर्देश पर चल रहा कार्य
  • सड़कों के नवीनीकरण-सुदृढ़ीकरण कार्य ने पकड़ी है रफ्तार

प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, लखनऊ


उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के निर्देशन में प्रदेश में सड़कों के गड्ढामुक्त करने का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) ने वित्तीय वर्ष में 56700 किमी से अधिक लंबाई में मार्गों को गड्ढायुक्त करने के लिए चिन्हित किया है ,जिसमें से 27000 किलोमीटर से अधिक सड़कों को गड्ढामुक्त किया जा चुका है।

त्योहारों को ध्यान में रखते हुए भीड़-भाड़ के क्षेत्रों की सड़कों को प्राथमिकता पर पूरा कराया जा रहा है। इसके अतिरिक्त 20,500 किलोमीटर से अधिक लम्बाई के मार्ग का नवीनीकरण करने के लिए वित्तीय स्वीकृति पहले प्रदान की जा चुकी है। उसमें से 4500 किलोमीटर से अधिक सड़कों का नवीनीकरण कार्य कराया जा चुका है।


वर्ष 2019-20 में 52,121 किलोमीटर लंबाई में सड़कों को गड्ढामुक्त किया गया है। वहीं, 23000 किलोमीटर से अधिक लंबाई के मार्गों का नवीनीकरण कराया गया है।


इसी तरह वर्ष 2018-19 में 44,376 किलोमीटर लंबाई में मार्गों को गड्ढामुक्त कराया गया है। इसी तरह 20,100 किलोमीटर से अधिक लम्बाई के मार्गों का नवीनीकरण कार्य कराया गया है।


उप मुख्यमंत्री के सूचना अधिकारी महेन्द्र कुमार ने बताया कि वर्ष 2017-18 में सरकार गठन के उपरांत सड़कों को गड्ढामुक्त करने का निर्णय लिया गया था। उसके बाद से सभी विभागों की 3,58,000 किलोमीटर सड़कों में से 1,07,000 किलोमीटर सड़कें गड्ढायुक्त थीं, जिन्हें अभियान चला कर दुरुस्त कराया गया है।


पीडब्ल्यूडी की 2,35,000 किलोमीटर लंबाई की सड़कों में से 85,160 किलोमीटर सड़कें गड्ढायुक्त थीं, जिन्हें निर्धारित समय में गड्ढामुक्त किया गया। साथ ही 37,000 किमी सड़कों का नवीनीकरण कराया गया है।


उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सड़कों के गड्ढामुक्त कार्य शीघ्र पूरा किया जाए। कार्यों की गुणवत्ता पर मानकों के हिसाब से नजर रखी जाए।

Post a Comment

0 Comments