International News-Us Election : अमेरिकी चुनाव से एक सप्ताह पहले तक 6.95 करोड़ चुके मतदान

प्रारब्ध न्यूज डेस्क



अमेरिका में चुनाव पूर्व मतपत्रों से वोट डालने की तादाद इतनी बढ़ गई है कि शुरुआती (प्री) वोटिंग निर्धारित तिथि (3 नवंबर) से एक सप्ताह पहले ही 2016 में गिने गए कुल मतपत्रों की तुलना में आधे से अधिक हो गई। यूनाइटेड स्टेट्स इलेक्शन प्रोजेक्ट से मिले आंकड़ों के मुताबिक, अब तक 6.95 करोड़ से ज्यादा अमेरिकी मतदान कर चुके हैं, जो 2016 में गिने गए कुल मतपत्रों का 50.4 प्रतिशत है।


इससे एक बात तो स्पष्ट है कि राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा किए गए मेल-वोटिंग के विरोध को अमेरिकी मतदाताओं ने नकार दिया है। हालांकि चुनाव पूर्व मेल या मतपत्र से मतदान का एक बड़ा कारण देश में फैली महामारी है।

इस बार मतदाताओं ने देश भर में 2016 के मुकाबले करीब 46 फीसदी मतदान पहले ही कर दिया है। शुरुआती मतदान में डेमोक्रेटों की उत्सुकता के चलते जो बिडेन बढ़त बनाते दिखाई देते हैं। फ्लोरिडा, नॉर्थ कैरोलिना में डेमोक्रेट आगे हैं।


टेक्सास में भी अश्वेत आबादी का लाभ डेमोक्रेटों के पक्ष में है जहां 73 लाख लोग मतदान कर चुके हैं। जबकि ऐसे राज्य जहां शुरुआती मतदान धीमा रहा है वहां ट्रंप की जीत की संभावना ज्यादा मानी जा रही है। इन राज्यों में टेनेसी, इंडियाना, लुइसियाना, उटाह और कंसास आदि शामिल हैं। बिडेन को कैलिफोर्निया, न्यूजर्सी, वर्जीनिया, इलिनॉय, हवाई आदि में लाभ मिल सकता है।


ट्रंप को सिख समुदाय का समर्थन


छोटे कारोबारों को मदद पहुंचाने व भारत-अमेरिकी रिश्तों की मजबूती वाली ट्रंप की नीतियों के कारण सिख समुदाय उनके पक्ष में है। विस्कॉन्सिन के मिलवॉकी में सफल कारोबारी व प्रमुख सिख नेता दर्शन सिंह धालीवाल ने कहा, इसका कारण भारत से रिश्ते मजबूत करने के उनके प्रयास और पीएम नरेंद्र मोदी के साथ उनकी मित्रता है। जबकि कमला हैरिस भारतवंशी होते हुए भी भारत विरोधी रुख रखती हैं।


सुपर सुधार और बिडेन अवसाद के बीच चुनाव : ट्रंप


राष्ट्रपति ट्रंप ने एक रैली में कहा कि मौजूदा चुनाव उनके प्रशासन के सुपर आर्थिक सुधारों और बिडेन के अवसाद के बीच है। उन्होंने बिडेन पर निशाना साधते हुए कहा, हम देश के अधिकांश राज्यों के जीतने जा रहे हैं। ट्रंप ने कहा, ये चुनाव ट्रंप बूम और बिडेन लॉकडाउन के बीच एक विकल्प है और हमें पता है कि लोग हमें ही चुनने जा रहे हैं।


मेरे पति सही मायनों में एक योद्धा हैं, उन्हें एक मौका और दें : मेलानिया


अगस्त में रिपब्लिकन अधिवेशन के बाद ट्रंप की पत्नी मेलानिया पहली बार चुनाव अभियान में उतरीं। उन्होंने कहा, मेरे पति सही अर्थों में एक योद्धा हैं जो आज भी कोरोना संक्रमितों के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं।


मेलानिया बोलीं, अपनों को खोने का दुख मैं समझती हूं लेकिन यह जानना होगा कि हम दुश्मन के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। ट्रंप ने चार साल देश की सेवा की है उन्हें आप एक और मौका दें।


कोविड-19 के कवरेज से जलते हैं ट्रंप : ओबामा


पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने उत्तराधिकारी पर व्हाइट हाउस को हॉट-जोन बनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि ट्रंप कोविड-19 के मीडिया कवरेज से ईर्ष्या जताते हैं। क्योंकि वे संक्रमण की हकीकत से देश को परिचित कराते हैं और ट्रंप उसे झुठलाते हैं। ओबामा ने कहा, यदि ट्रंप ने सही वक्त पर कार्रवाई की होती तो ये मामले इतनी ऊंचाई पर नहीं पहुंचते।


Post a Comment

0 Comments