Covid-19 : कोरोना से बचाव के लिए योगासन रामबाण

  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के दिए गए टिप्स 
  • जागरूक कानपुर अभियान के तहत योग पाठशाला


प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर 



नियमित योगाभ्यास से शरीर स्वस्थ रहता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के साथ ही श्वसन तंत्र मजबूत होता है, इसलिए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए योगासन रामबाण है। यह बातें योग प्रशिक्षक भावना श्रीवास्तव ने स्वराज वृद्धाश्रम, पनकी में आयोजित योग शिविर में कहीं।


योग शिविर का आयोजन जिला प्रशासन के जागरूक कानपुर अभियान के तहत सेंटर फार एडवोकेसी एंड रिसर्च संस्था की ओर से किया गया। 


योग प्रशिक्षक ने बुजुर्गों को विभिन्न योग एवं आसन कराए। इनमें मंडूकासन, पवनमुक्तासन और उत्तानपादासन कराया। इनकी महत्ता भी बताई। वहीं काउंसलर डॉ. अनुपम जैन ने बुजुर्गों को ठहाके लगवाए। उन्हें स्वस्थ्य रखने और योग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए दैनिक जीवन में किए जाने वाले नुस्खे भी बताए।

बढ़ती उम्र में हाथ, पैर, आंख, गर्दन, पीठ से संबंधित बीमारियों और उनसे बचाव की जानकारी दी। उन्होंने आयुष मंत्रालय द्वारा स्वीकृत होम्योपैथिक इम्युनिटी बूस्टर भी बुजुर्गों को उपलब्ध कराईं।

इस अवसर पर कई महिला और पुरूष बुजुर्गों ने सवाल भी किए। योग प्रशिक्षक रजत वर्मा ने भास्त्रिका, कपालभाति, अनुलोम: विलोम, भ्रामरी, उदगीथ और अनुलोम-विलोम प्राणायाम के लाभों के बारे में बताया। इन्हें करने के तरीके भी सिखाए। इस अवसर पर वृद्धाश्रम के संरक्षक एसके चौधरी, सीता तिवारी, तृप्ति देवी, श्रुति झा व श्रेयांश झा मौजूद रहे। 


तेजी से बढ़ती श्वेत रक्त कणिकाएं

नियमित योगासन से श्वेत रक्त कोशिकाएं (डब्ल्यूबीसी) तेजी से बढ़ती हैं, जाे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधाक क्षमता में बढ़ाने में सहायक होती हैं।


जब शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने पर बैक्टीरिया एवं वायरस के संक्रमण का मुकाबला कर उनके नाकाम कर देती हैं। नियमित योगासान से कोरोना के खतरे को कम कर सकते हैं। पांच प्राणायाम और पांच आसनों के नियमित अभ्यास से रक्तचाप, तनाव, मुधमेह व हृदयरोग से बच सकते हैं। 


खानपान का रखें ध्यान

खाने में विटामिन-सी से युक्त नींबू, संतरा और आंवले का भरपूर सेवन करें। तुलसी, गिलोय और काली मिर्च का काढ़ा दिन में तीन से चार बार लें। इससे शरीर की प्रतिरक्षण प्रणली मजबूत होती है। घर में हवन सामग्री में गाय का घी, गूग्गल और कपूर मिलाकर धुआं करने से बैक्टीरिया-वायरस मरते हैं।

Post a Comment

0 Comments