निपटा लें जरूरी काम, बैंकों की देशव्यापी हड़ताल 27 जून से

पेंशन पुनः निर्धारण व पांच दिवसीय बैंकिंग सेवा करने के लिए बैंककर्मियों का प्रदर्शन



प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो , लखनऊ 


पेंशन पुनः निर्धारण और पांच दिवसीय बैंकिंग सेवा करने की मांग बैंककर्मी लंबे समय से उठा रहे हैं, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। अपनी मांगों के समर्थन में सोमवार को प्रदेश की राजधानी की हृदय स्थली हजरतगंज स्थित भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की मुख्य शाखा के समक्ष प्रदर्शन किया। उन्होंने ऐलान किया कि अगर मांगें नहीं मानी गईं तो 27 जून से देशव्यापी हड़ताल पर चले जाएंगे। इसलिए बैंककर्मियों की हड़ताल को देखते हुए बैंकिंग से जुड़े जरूरी काम पहले ही निपटा लें।

सोमवार को हजरतगंज स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य शाखा के समक्ष यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस के बैनर तले सार्वजनिक क्षेत्र के बैंककर्मियों ने केंद्र सरकार एवं आईबीए की हठधर्मिता के कारण लंबित मांगों के लिए सभा एवं प्रदर्शन किया। 

फोरम के प्रदेश संयोजक वाईके अरोड़ा ने बताया हमारी प्रमुख मांगों में पांच दिवसीय बैंकिंग, पेंशन का पुन: निर्धारण, नवीन पेंशन योजना की समाप्ति एवं पुरानी पेंशन योजना को लागू करने, बैंक कर्मियों के दीर्घ लंबित मुद्दों पर निर्णय, (CSB Bank) सीएसबी बैंक तथा (DBS Bank) डीबीएस बैंक में वेतन समझौते को लागू करना हैं। इसको लेकर फोरम ने 27 जून को देशव्यापी बैंक हड़ताल का आह्वान किया है।

आयबाक के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन कुमार ने बताया कि वर्ष 1986 से पेंशन अपडेट नहीं हुई जबकि अन्य सरकारी उपक्रमों में वेतन संशोधन के साथ ही पेंशन भी अपडेट की जाती हैं। वहीं, एनसीबीई के महामंत्री अखिलेश मोहन ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक तथा केंद्रीय सरकारी कार्यालय पांच दिवसीय हो सकते हैं तो बैंकों में भी यह व्यवस्था  लागू होनी चाहिए।


यूपीबीईयू के प्रदेश उपाध्यक्ष दीप बाजपेई ने कहा कि नवीन पेंशन योजना समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना को तुरंत लागू किया जाए। फोरम के लखनऊ संयोजक अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि बैंककर्मियों के दीर्घ लंबित मुद्दों का निर्णय शीघ्र ना किया गया तो हम लंबे संघर्ष के लिए तैयार हैं।

सभा को बैंक ऑफ इंडिया आफीसर्स एसोसिएशन के महामंत्री सौरभ श्रीवास्तव, केनरा बैंक अधिकारी संघ के महामंत्री एसके संगतानी, पंजाब एंड सिंध बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन के पीएस भाटिया, सेंट्रल बैंक स्टाफ एसोसिएशन सहायक महामंत्री वीके श्रीवास्तव के अतिरिक्त एसके अग्रवाल, वीके माथुर, संदीप सिंह, विभाकर कुशवाहा, मनमोहन दास, दिवाकर सिंह, बीडी पांडेय, अमिताभ मिश्रा, राजेश शुक्ला, नीलम वार्श्नेय आदि ने बैंककर्मियों की मांगों पर ध्यान न देने के लिए केंद्र सरकार एवं आईबीए की निन्दा की।

फोरम के मीडिया प्रभारी अनिल तिवारी ने बताया कि 24 जून को शाम 5.30 बजे यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, नावेल्टी सिनेमा परिसर पर तथा देशव्यापी बैंक हड़ताल पर 27 जून को इंडियन बैंक, हजरतगंज (पूर्व इलाहाबाद बैंक) पर 11.30 बजे सभा एवं प्रदर्शन किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments