US Election : भारतीय मूल की कमला हैरिस बनीं पहली महिला उप-राष्ट्रपति

प्रारब्ध न्यूज नेटवर्क



भारतीय मूल की कमला हैरिस ने डेमोक्रेटिक पार्टी के उप राष्ट्रपति के रूप में अपना चुनाव जीत कर इतिहास रचा है। वह पहली महिला हैं जो अमेरिका के उप-राष्ट्रपति पद पर आसीन होंगी। भारत के लिए भी यह गर्व की बात है कि भारतीय मूल की महिला अमेरिकी उप-राष्ट्रपति का पद संभालेंगी।

जीत के बाद कमला हैरिस ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की। उन्होंने एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि यह जीत जो बाइडन और मेरे लिए बहुत अधिक मायने रखती है। यह अमेरिका की आत्मा और इसके लिए लड़ने की हमारी इच्छा के बारे में है। आगे बहुत काम हैं। आइए शुरू करें।

 


आकलैंड में जन्मीं हैरिस


हैरिस का जन्म 1964 में ऑकलैंड में हुआ है। उनकी मां श्यामला गोपालन हैरिस भारतीय मूल की हैं, उनके पिता जमैका मूल के डोनाल्ड हैरिस एक स्तन कैंसर वैज्ञानिक थे। जब हैरिस 7 वर्ष की थीं तब उनके माता-पिता के बीच तलाक हो गया था।


तमिलनाडु के थुलासेंद्रपुरम् गांव के हैरिस के नाना

 

हैरिस के नाना पी.वी. गोपालन पूर्व राजनयिक व तमिलनाडु के थुलासेंद्रपुरम् गांव के निवासी थे। उनकी नानी राजम नजदीक के पेंगानाडु गांव से थी। हालांकि कमला के पूर्वजों ने कई दशक पहले गांव छोड़ दिया था, परिवार के सदस्यों ने मंदिर के साथ अपने संबंध थुलासेंद्रपुरम् में बरकरार रखे हैं।


ब्राउन यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट 


कमला हैरिस ने ब्राउन यूनिवर्सिटी से वर्ष 1998 में ग्रेजुएट किया। उसके बाद कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से कानून की डिग्री प्राप्त की। हैरिस सैन फ्रांसिस्को डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी ऑफिस में काम करने लगी जहां उन्हें करियर क्रिमिनल यूनिट का इंचार्ज बनाया गया।


फ्रांसिस्को के काउंटी की डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी बनीं


वर्ष 2003 में उन्हें सिटी और सैन फ्रांसिस्को के काउंटी की डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी के तौर पर चुना गया था। उसके बाद वर्ष 2011 में कैलिफोर्निया की अटॉर्नी जनरल बनीं। फिर वह अमेरिकी राजनीति में सक्रिय होती चली गईं।


सीनेटर का वर्ष 2016 में जीता चुनाव


वर्ष 2016 में लोरेटा सांचेज को सीनेट चुनाव में हराकर हैरिस संयुक्त राज्य अमेरिका की सीनेट में सेवा देने वाली पहली दक्षिण एशियाई अमेरिकी बनीं।

Post a Comment

0 Comments