Murder Mystery : रात दो बजे घर के अंदर गई थी कार

उत्तर प्रदेश के बरेली का शिक्षक हत्याकांड

  • पति की लाश को लेकर अकेली ही निकल पड़ी विनिता


प्रारब्ध न्यूज डेस्क, लखनऊ



कॉलेज के प्रवक्ता की हत्या का खुलासा हैरान करने वाला है। हद तो यह है कि साथ रहने वाले उनकी जीवन संगिनी ने ही प्राण ले लिए। उसके बाद शव को ठिकाने अपने दम पर लगा दिया। रात अकेले दो बजे पति की लाश लेकर कार से निकल पड़ी। प्रवक्ता अवधेश का कंकाल मिलने से लेकर हत्या का खुलासे पर अब धीरे-धीरे पड़ोसियों ने भी बातें करनी शुरू कर दी हैं। उन्होंने अब बातचीत में एक संदिग्ध कार का जिक्र किया है।



पड़ोसियों ने परिवार के लोगों को कई अहम जानकारियां दी हैं। पता लगा है कि लाल रंग की टीयूवी कार हमेशा घर के बाहरी हिस्से में सड़क पर ही खड़ी रहती थी, लेकिन 12 अक्तूबर की रात कार घर के अंदरूनी हिस्से में ले जाई गई। कई लोगों को यह देखकर अजीब लगा, लेकिन उन्होंने नजरअंदाज कर दिया।


उन्होंने बताया कि हमेशा बाहर खड़ी रहने वाली कार रात करीब दो बजे घर के अंदर गई। फिर बाहर निकलकर चली गई। लोगों को उस समय तो संदेह हुआ, लेकिन अगले दिन विनीता लौटकर घर आ गई तो उन्होंने इसपर गौर नहीं किया।


मालूम हो कि विनीता ने अपने शिक्षक पति अवधेश कुमार की हत्या कराने से लेकर उनकी लाश ठिकाने लगाने तक क्रूरता की सारी हदें पार कर दीं। पेशेवर अपराधियों से भी ज्यादा दुस्साहस दिखाते हुए उसने खुद अपनी गाड़ी में लाश फिरोजाबाद तक ले जाने का फैसला किया।


साढ़े चार घंटे के इस सफर में अवधेश की लाश पिछली सीट पर पड़ी रही और कुछ किलोमीटर आगे दूसरी गाड़ी में चल रहा उसका भाई लगातार मोबाइल पर उसके संपर्क में रहा ताकि कोई खतरा होने पर फौरन उसे आगाह कर सके।


Post a Comment

0 Comments