Covid-19 : शहर में कोरोना की रशियन वैक्सीन का भी ट्रॉयल

- देशभर के 12 सेंटरों में जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज भी शामिल


प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर


शहर में स्वदेशी कोरोना वैक्सीन के बाद अब एक और वैक्सीन के ट्रॉयल की तैयारी शुरू है। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज समेत देश के 12 सेंटरों में कोरोना की रशियन वैक्सीन के ट्रॉयल की अनुमति मिली है। वैक्सीन का फेज फेज थ्री ट्रॉयल किया जाएगा। ट्रॉयल के लिए वॉलंटियर्स का पंजीकरण भी शुरू है। ट्रॉयल शुरू करने से पहले मेडिसिन विभागाध्यक्ष ने कॉलेज की एथिकल कमेटी से अनुमति मांगी है। वैक्सीन का ट्राॅयल नवंबर के पहले सप्ताह से शुरू होने की उम्मीद है।

रूस में तैयार कोरोना की वैक्सीन स्पूतनिक-वी ने भारत में फेज थ्री ट्रायल के लिए फार्मा कंपनी डॉक्टर रेड्डी लैब्स से हाथ मिलाया है। वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआइ) से वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल्स शुरू करने की अनुमति प्रदान कर दी है। डीसीजीआइ से अनुमति के बाद इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) ने भी फेज थ्री ट्रॅयल के लिए सहमति प्रदान की है। आइसीएमआर की अप्रूवल पर देशभर के 12 सरकारी एवं प्राइवेट संस्थानों में एक साथ वैक्सीन का ट्रॉयल शुरू होगा। इसमें जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज समेत पांच सरकारी संस्थान हैं, जबकि छह निजी संस्थान हैं।


दो सौ वॉलंटियर्स पर अध्ययन


कानपुर के सेंटर में फेज थ्री ट्रॉयल के तहत 200 वॉलंटियर्स को वैक्सीन लगाई जाएगी। उसके हिसाब से ही 200 वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएंगी। वॉलंटियर्स पर परीक्षण के बाद उन पर हुए असर पर अध्ययन किया जाएगा। उनके ब्लड सैंपल की रिपोर्ट रिपोर्ट आइसीएमआर को भेजी जाएगी।


नि:शुल्क पंजीकरण के लिए करें संपर्क


कोरोना वैक्सीन का अपने ऊपर ट्रॉयल कराने के इच्छुक व्यक्ति जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के हैलट अस्पताल के मेडिसिन विभाग में संपर्क कर सकते हैं। बतौर वॉलंटियर्स निश्शुल्क पंजीकरण करा सकते हैं। इसके लिए रिसर्च असिस्टेंट के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं, जो निम्नवत हैं।


  • अमन मोबाइल नंबर 8090609630
  • अयान का मोबाइल नंबर 8707574418


वैक्सीन के नामकरण की यह है वजह


रूस ने वैक्सीन का नाम स्पूतनिक-वी रखा है। रूसी भाषा में स्पूतनिक शब्द का अर्थ सैटेलाइट होता है। विश्व में पहला सैटेलाइट रूस ने ही बनाया था। इसलिए उसके नाम पर वैक्सीन का नामकरण किया है।



रशियन वैक्सीन (गैम कोविड वैक) के फेज थ्री ट्रॉयल के लिए अपने मेडिकल कॉलेज को भी शामिल किया गया है। देशभर में 12 सेंटरों पर एक साथ ट्रॉयल शुरू होना है। एथिकल कमेटी में अनुमति के लिए आवेदन किया है। कमेटी से अप्रूवल के बाद नवंबर के पहले सप्ताह से ट्रॉयल शुरू करेंगे।

  • डॉ. सौरभ अग्रवाल, चीफ गाइड, वैक्सीन ट्रॉयल, जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज।

Post a Comment

0 Comments