Prarabdh Dharm-Aadhyatm : आज का पंचांग (11 जनवरी 2022)

11 जनवरी, दिन : मंगलवार


विक्रम संवत : 2078 (गुजरात - 2077)


शक संवत : 1943


अयन : दक्षिणायन


 ऋतु : शिशिर


मास -  पौस


पक्ष -  शुक्ल


तिथि - नवमी दोपहर 02:21 तक तत्पश्चात दशमी


नक्षत्र - अश्विनी सुबह 11:10 तक तत्पश्चात भरणी


योग - सिध्द सुबह 10:56 तक तत्पश्चात साध्य


राहुकाल -  शाम 03:31 से शाम 04:53 तक


सूर्योदय - 07:19


सूर्यास्त - 18:13


दिशाशूल - उत्तर दिशा में


व्रत और त्योहार


एकादशी 


13 जनवरी : पौष पुत्रदा एकादशी


28 जनवरी : षटतिला एकादशी


प्रदोष 


14 जनवरी : शनि प्रदोष 


30 जनवरी : रवि प्रदोष


पूर्णिमा


17 जनवरी : पौष पूर्णिमा 


व्रत पर्व विवरण - 


विशेष - नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

       


Diabetes( मधुमेह) नियंत्रित करने के लिए


Diabetes नियंत्रित करने के लिए सुबह 1/2 किलो कच्चा करेला टुकड़े - टुकड़े करके तसले में डाल दें और अपने पैरों से 1/2 से 3/4 घंटे तक तक कुचलें जब तक जीभ में कड़वाहट का अहसास ना हो l 7-10 दिन तक ये प्रयोग करें l इससे Diabetes नियंत्रित होती है l


-हो सके तो इन दिनों में मेथी की सब्जी खाए या मेथी के दाने रात को भिगा दे और सुबह  खाए | इससे लाभ होगा |


होंठ फटने पर


नाभि में सरसों के तेल की 2-4 बूंदे डालें तथा जरा से मक्खन में नमक मिलाकर होंठों पर लगायें इससे लाभ होता है l


राग और ताल की महिमा


राग और ताल सुनने से बहुत सी बीमारियाँ दूर होती हैं

1-राग मारवा और राग भोपाली से आंतों की बीमारियाँ दूर होती हैं l

2-राग आसारी से मस्तक के रोग दूर होते हैं l

3-राग भैरवी से सिरदर्द ठीक होने लगता है l

4-राग सोहनी से सिरदर्द और मरुरज्जू (रीड़ की हड्डी में जो मनके घिस गए, वो ठीक होने लगते हैं l

5-राग वसंत और राग सोरट से नपुंसकता दूर हो जाती है l

Post a Comment

0 Comments