Interesting News From Azamgarh : कुत्ते ने बकरी को काटा तो थाने में पंचायत





प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, आजमगढ़


जिले के तिवारीपुर गांव में बकरी को कुत्ते ने काट क्या लिया हंगामा खड़ा हो गया। दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए। कुत्ते और बकरी को लेकर मारपीट की नौबत आ गई। हालांकि बीच-बचाव के बाद मामला टल गया। रात भर सब दोनों पक्ष मंत्रणा करते रहे। शनिवार सुबह फिर से हंगामा शुरू हो गया। अंतत: पूरे प्रकरण को लेकर दोनों पक्ष सिधारी थाने पहुंच गए। बकरी और कुत्ते मालिक के हिमायती पुलिस की अगुवाई में पंचायत लगाई।



तिवारीपुर में रहने वाले रोडवेज में कार्यरत लिपिक का पालतू कुत्ता है। उसने शुक्रवार देर शाम को दूसरे पक्ष की बकरी को काट लिया। कुत्ते के काटने के बाद दूसरे पक्ष से बड़ी संख्या में लोग उनके घर आ धमके। कुत्ते की शिकायत लेकर बड़ी संख्या में पहुंचे लोगों को देखकर उनके घर वाले घबरा गए। इसकी सूचना डायल 112 पर पुलिस कंट्रोल रूम को दी।



घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। बीच-बचाव करके दोनों पक्षों को शांत कराया और लौट आई। दूसरे दिन फिर से दोनों पक्ष हंगामा करने लगे। इस पर पुलिस दोनों पक्षों को थाने लेकर चली आई। सिधारी थाने में दोनों पक्ष को बैठाया गया। बकरी मालिक ने बताया कि बकरी बच्चा देने वाली है और कुत्ते के काटने से गंभीर रूप से घायल हो गई है। इस वजह से बकरी की मौत भी हो सकती है।



दूसरी ओर कुत्ते के मालिक का कहना था कि अगर बकरी मरेगी, उसी स्थिति में वह मुआवजा देेंगे यानी बकरी की कीमत अदा करेंगे। उससे पहले वह किसी भी प्रकार का मुआवजा देने के लिए तैयार नहीं हुए। इस दौरान दोनों पक्षों के लोग थाने के बाहर जमा हो गए। किसी कीमत में कोई पक्ष कुछ मानने को तैयार नहीं था। दोनों अपनी-अपनी बात पर अड़े हुए थे। ऐसे में काफी देर तक शांत रहने के बाद पुलिस को सख्ती बरतनी पड़ी।



इस मामले में दोनों पक्षों ने आपसी-सुलह समझौते के तहत हल करने की बात स्वीकार कर ली है। थाने पहुंचने पर जब भारी भीड़ होने लगी, तो दोनों पक्षों को अपनी-अपनी गलती का एहसास हुआ। उसके बाद आपसी समझौते के लिए तैयार हो गए।


  • जितेंद्र सिंह, प्रभारी निरीक्षक, सिधारी थाना, आजमगढ़। 

Post a Comment

0 Comments