RLD chief Chaudhary Jayant Singh said - Baba's talk started with Aurangzeb and stopped on Kairana exodus. : रालोद मुखिया चौधरी जयंत सिंह बोले- बाबा की बात औरंगज़ेब से शुरू होकर कैराना पलायन पर आकर रुकती

राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह ने दबथुआ-बबकपुर, मेरठ में सपा सुप्रीमों ध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ संयुक्त सभा परिवर्तन संदेश रैली को किया संबोधित



प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, मेरठ


राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) और समाजवादी पार्टी (सपा) की पहली संयुक्त रैली में मंगलवार को चौधरी जयंत सिंह ने योगी आदित्यनाथ की सरकार पर जमकर हमला बोला। चौधरी जयंत सिंह ने कहा की बाबा की बात औरंगज़ेब से शुरू होकर कैराना पलायन पर आकर रुक जाती हैं। नौजवानों को रोज़गार कैसे मिले, किसानों को उचित दाम कैसे मिले, समाज के वंचितों को हक़ कैसे मिले योगी आदित्यनाथ इन ज़रूरी मुद्दों पर कभी बात नहीं करते हैं। 




आज नौजवान नौकरी के लिए मारे मारे फिर रहे हैं। निष्ठुर सरकार नौकरी देने की जगह राजधानी की सड़कों पर पुलिस से नौजवानों पर लाठियां चलवा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बार-बार अपने को फ़ायरब्रांड नेता कहते हैं पर ये फ़ायरब्रांड नेता नहीं हैं, ये फ़र्ज़ी हैं। 



जब एक साल तक किसानों पर हमले होते रहे। इनके मुँह से किसानों के समर्थन में एक शब्द तक नहीं फूटा बोला। क्या ऐसा नेता फ़ायरब्रांड नेता हो सकता हैं या नहीं। मेरठ के लोगों के बारे में बात करते हुए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि यहाँ के लोगों ने हमेशा सही का साथ दिया हैं। आज भी यहाँ के लोग किसानों के साथ खड़े हैं, जो सत्ता के नशे में चूर सरकार को उखाड़ फेकेंगे।




चौधरी जयंत सिंह ने एक क़िस्सा सुनते हुए कहा कि मेरठ में एक चोर पकड़ा गया। चोर की गाड़ी पर झंडा भाजपा का था। चोर को सजा के तौर पर 100 जूते या 100 प्याज़ खाने की सजा मिली। चोर को लगा की प्याज़ खा लेता हूँ पर 30-35 प्याज़ खाने के बाद जब और खाने की हिम्मत नहीं रही तो उसने 100 जूते लगवाने की सजा को चुना और जब 30-40 जूते लगने के बाद उससे दर्द सहा नहीं गया तो फिर से प्याज़ खाने की सजा को चुना। आख़िर में उसने 100 जूते भी खाए और 100 प्याज़ भी। यही हाल मोदी जी और योगी जी का हुआ। बिल भी वापिस लेने पड़े और जनता इनको सत्ता से बेदख़ल भी करके रहेगी। जो अभी भी भाजपा में हैं उनसे अपील करते हुए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि अभी भी मौका है कि सही का साथ देने के लिए भाजपा का साथ छोड़िए।




अखिलेश यादव की तारीफ़ करते हुए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि अखिलेश जी ख़ुद इंजीनियर हैं। उन्होंने राज्य की तरक़्क़ी के लिए एक्सप्रेस-वे बनवाये। इन्होंने जो सड़कें बनवाई वो एक नारियल के मारने से टूट जाती हैं। नौजवानों की तरफ़ इशारा करते हुए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि ये नौजवान इस बार बाबा को दोबारा बछड़ों के बीच ही पहुँचा कर मानेंगे। बाबा सबसे ज़्यादा ख़ुश बछड़ों के बीच ही रहते हैं। 



किसानों के सम्मान की बात करते हुए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि जब उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार बनेगी, तब पहला काम हमारा होगा कि किसानों के सम्मान में एक बलिदान स्मारक बनाना। ताकि देश की आने वाली पीढ़िया हमारे किसानों के बलिदान को याद रख सकें जिन्होंने मोदी को सबसे पहले झुकाने का काम किया। 




राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयन्त सिंह एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की संयुक्त सभा परिवर्तन संदेश रैली में बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती जी के भांजे प्रबुद्ध कुमार जी ने राष्ट्रीय लोकदल की सदस्यता ग्रहण की।

Post a Comment

0 Comments