Corona Third wave : कोरोना की थर्ड वेव से बचाने के लिए ऐसे बढ़ाएं बच्चों की इम्यूनिटी


प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, लखनऊ


कोरोना (Corona) की तीसरी लहर (Third wave) आने की बात की जा रही है। इसे बच्चों के लिए काफी खतरनाक बताया जा रहा है। ऐसे में ज़रूरी है कि बच्चों की इम्यूनिटी (Kids immunity) बूस्ट करने के लिए उनकी डाइट में कुछ देसी फूड्स को शामिल किया जाए।


बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खिलाएं देसी फूड्स



किसी भी वायरस और बीमारी से बचने के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी है इम्यूनिटी (Immunity) का स्ट्रांग होना। कोरोना के इस दौर में तीसरी लहर आने की बात की जा रही है। जिसे खासकर बच्चों के लिए काफी खतरनाक बताया जा रहा है। ऐसे में ज़रूरी है कि बच्चों की इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए उनकी डाइट में कुछ चीजों को शामिल किया जाए।


मुरब्बा-अचार-चटनी


बच्चों की इम्यूनिटी स्ट्रांग करने के लिए आंवला, नींबू, करौंदा जैसी चीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है। बच्चों की डाइट में इनको शामिल करने के लिए इन चीजों को मुरब्बा, अचार और चटनी के रूप में खिलाएं। बच्चों को इनके खट्टे-मीठे स्वाद तो पसंद आएंगे ही साथ ही बच्चों की एनर्जी और इम्यूनिटी भी स्ट्रांग होगी।


सीजन के फल-सब्ज़ी 


बच्चों की इम्यूनिटी किसी टेबलेट के ज़रिये बढ़ाने से बेहतर है कि फलों और सब्ज़ियों के ज़रिये इसको स्ट्रांग किया जाए। गर्मी के मौसम में अमरूद, आम, करौंदा, आंवला और कटहल जैसी चीजें आसानी से मिल जाती हैं। इनको बच्चों की डाइट में शामिल किया जाना चाहिए। ये इम्यूनिटी को तो स्ट्रांग करती ही हैं साथ ही उनकी ग्रोथ को बेहतर करती हैं और बोन्स को भी मजबूती देती हैं।


शाम को दें ऐसा नाश्ता 


बच्चों को शाम होते-होते भूख लगने लगती है। ऐसे में बच्चों को मैगी, पास्ता, बर्गर खिलाने से बेहतर है कि उनको घी और गुड़ के साथ रोटी, हलवा, बेसन और राजगीरा के लड्डू खाने को दें। शाम का समय ऐसा होता है जब और शरीर में कॉर्टिसोल हार्मोन्स का स्तर कम होता है। इसलिए उनको थोड़ी एनर्जी देने और उनका मूड बूस्ट करने लिए डाइट में इन चीजों को शामिल करें।


चावल भी शामिल करें डाइट में


बच्चों में इम्यूनिटी के साथ एनर्जी लेवल को बढ़ाने के लिए बच्चों की डाइट में चावल शामिल करें। अगर हो सके तो दही के साथ चावल खाने को दें जिसमें सेंधा नमक मिलाना बेहतर होगा। इसके साथ ही बच्चों को दाल और घी के साथ भी चावल खाने के लिए दें। अमीनो एसिड से भरपूर चावल विटामिन बी का भी बेहतर सोर्स है जो बच्चों में चिड़चिड़ापन कम करने में भी मदद करेगा।

Wellness Coach

Sumit 

Beyond the life Yog & Meditation 


For Therapeutic diet Counselling


☎️6389009571/8447488120

Post a Comment

0 Comments