West Bengal Election : कोरोना से भी खतरनाक वायरस है भाजपा : नुसरत जहां

  • टीएमसी सांसद ने भाजपा को लेकर दिया विवादित बयान, कहा- दंगे कराती है पार्टी


प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कोलकाता



पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसद नुसरत जहां ने चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा को लेकर विवादित बयान देकर सूर्खियों में आ गईं हैं। उन्होंने उत्तर 24 परगना के मुस्लिम बहुल देगंगा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तुलना कोरोना वायरस से कर दी। उन्होंने कहा कि आप लोग अपनी आंखें खोल कर रहें। भाजपा जैसा खतरनाक वायरस घूम रहा है। यह पार्टी धर्मों के बीच भेदभाव एवं आदमी-आदमी के बीच दंगा कराती है।


विधानसभा चुनाव से पहले ही पश्चिम बंगाल में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की बशीरहाट से सांसद नुसरत जहां ने भाजपा को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने भाजपा को कोरोना वायरस से ज्यादा खतरनाक वायरस बताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा हिंदू-मुसलमान के बीच दंगा कराती है। अगर भाजपा सत्ता में आई तो मुस्लिमों के उलटे दिन शुरू हो जाएंगे।


ममता की चुप्पी पर अमित मालवीय ने उठाए सवाल


टीएमसी सांसद नुसरत के बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ममता बनर्जी और उनकी पार्टी पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया है। मालवीय ने कहा कि पश्चिम बंगाल में वैक्सीन पर सबसे खराब राजनीति हो रही है। पहले ममता बनर्जी की कैबिनेट के मौजूदा मंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी ने वैक्सीन ले जा रहे ट्रक को रुकवा दिया। अब एक टीएमसी सांसद मुस्लिम बहुल इलाके देगंगा में चुनाव प्रचार करते हुए बीजेपी की तुलना कोरोना से कर रही हैं, लेकिन पिशी (ममता बनर्जी) चुप हैं।


वैक्सीन ले जा रहे वाहन को करना पड़ा डायवर्ट


शनिवार 16 जनवरी से पूरे देशभर में टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। पश्चिम बंगाल में भी कोरोना की वैक्सीन भेजी गई, लेकिन कृषि कानूनों के विरोध में राष्ट्रीय राजमार्ग बंद था। ऐसे में वैक्सीन ले जाने वाले विशेष वाहन को 12 किलोमीटर घूम कर जाना पड़ा। ममता बनर्जी की कैबिनेट में राज्यमंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी की अगुवाई में बुधवार को राष्ट्रीय राजमार्ग बंद कर दिया गया। इस कारण बर्धमान जिले में कोरोना की वैक्सीन ले जाने वाले विशेष वाहन को रोक दिया गया।

Post a Comment

0 Comments