Health News : ओटी टेक्नीशियन बना डॉक्टर, इलाज करते पकड़ा

  • सीएमओ ने बिठूर स्थित हाईटेक अस्पताल में देर रात मारा छापा

  • बुखार के मरीजों में किसी की कोरोना व डेंगू की जांच नहीं कराई



प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर


स्वास्थ्य महकमे के अधिकारियों की सांठगांठ से खुलेआम अवैध रूप से नर्सिंग होम चल रहे हैं। न उनका पंजीकरण है और न ही डॉक्टर। मानकों की बात दूर है। जिले में अवैध रूप से चलाए जा रहे ऐसे नर्सिंग होम के खिलाफ मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर एवं जिलाधिकारी आलोक तिवारी के निर्देशन में अभियान चलाया जा रहा है। इस कड़ी में बुधवार देर रात सीएमओ ने बिठूर के साईं मंदिर के समीप हाईटेक हॉस्पिटल में छापा मारा। 



वहां ओटी टेक्नीशियन डॉक्टर बनकर मरीजों का इलाज करते मिले। वहां भर्ती बुखार के मरीजों में से किसी की कोरोना और डेंगू की जांच नहीं कराई गई। न पंजीकरण था और न ही डॉक्टर मौजूद थे।

सीएमओ डॉ. अनिल मिश्रा ने बताया कि रात 10:00 बजे बिठूर के हाइटेक हॉस्पिटल में औचक छापा मारा था।



निजी अस्पताल में पांच मरीज भर्ती थे। उसमें से चार बुखार के थे, लेकिन किसी मरीज की न करोना और न ही डेंगू की जांच कराई गई। प्रसव उपरांत महिलाएं भर्ती थीं। वहां भर्ती सभी मरीजों को ड्रिप चढ़ रही थी। वहां डॉक्टर बनकर ओटी टेक्नीशियन दीपक कुशवाहा मरीजों का इलाज कर रहा था। वही अस्पताल का संचालक भी है। मांगने पर वह नर्सिंग होम का पंजीकरण नहीं दिखा सका। वहां मरीज भर्ती होने के बाद भी एक भी डॉक्टर नहीं थे। अवैध रूप से संचालित निजी अस्पताल को तत्काल सील करने के निर्देश दिए हैं। संचालक के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जा रही है। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments