Kanpur Students were doing recovery from truckers by becoming fake police : नकली पुलिस बनकर छात्र कर रहे थे ट्रक वालों से वसूली

  • सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी करके स्वरूप नगर क्षेत्र में दबोच लिया
  • जीटी रोड पर स्कार्पियो सवार तीन युवक थे ट्रकों को रोक कर रहे थे चेकिंग


पुलिस की गिरफ्त में नकली पुलिसकर्मी बनकर वसूली करने वाले तीनों युवक।

प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर

शहर में रात के समय सक्रिय पुलिसिंग के रिजल्ट भी अब सामने आने लगे हैं। बुधवार देर रात पुलिस के हत्थे नकली पुलिस वाले चढ़ गए। पुलिस ने जीटी रोड पर नकली पुलिस वाले बनकर ट्रकों से वसूली कर रहे तीन युवकों को दबोचा है। स्कार्पियो सवार इन युवकों को पुलिस ने पकड़ने की कोशिश की तो भाग निकले। पुलिस ने शहर में नाकेबंदी करके उन्हें स्वरूप नगर क्षेत्र में दबोच लिया। 

पिछले कुछ दिनों से मंधना से रावतपुर के बीच स्कार्पियो सवार कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा ट्रक वालों को रोकर वसूली की शिकायत मिल रही थी। बुधवार की रात साढ़े दस बजे पुलिस आयुक्त असीम अरुण को किसी ने सूचना दी कि तीन पुलिसकर्मी बिठूर रोड चौराहे पर ट्रक वालों और खुली दुकानों से वसूली कर रहे हैं। 

सूचना मिलते ही पुलिस आयुक्त ने रात्रिकालीन गस्ती दल को अलर्ट करते हुए कल्याणपुर पुलिस को इन्हें पकड़ने का निर्देश दिया। पुलिस की जीप देखते ही तीनों युवक स्कार्पियो में बैठकर भाग निकले। पुलिस ने पीछा किया तो रात्रि गस्ती दल भी सक्रिय हो गया। नवाबगंज से होते हुए स्कार्पियो स्वरूपनगर क्षेत्र में पहुंची तो पीआरवी 408 और 432 में सवार पुलिस कर्मियों ने कार को रोक लिया। आनन-फानन में फोर्स पहुंची और तीनों युवकों को दबोच लिया। तीनों सादे लिबास में ही थे।

इन युवकों को पुलिस ने पकड़ा

डीसीपी पश्चिम संजीव त्यागी ने बताया कि पुलिस ने कानपुर देहात के मुरीदपुर निवासी लोकेंद्र यादव, नवाबगंज के आजादनगर निवासी गगन तिवारी और मौनीघाट के आयुष अग्निहोत्री को गिरफ्तार किया है। लाकेंद्र 12वीं तक पढ़ा है और फिलहाल बेरोजगार है। वहीं गगन तिवारी छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय से पत्रकारिता की पढ़ाई कर रहा है।आयुष कन्नौज के सरदार पटेल इंटर कॉलेज में 12वीं का छात्र है।


पुलिस टीम के हर सदस्य को एक-एक हजार रुपये का पुरस्कार

नकली पुलिसकर्मियों को पकड़ने वाली पीआरवी 432 पर एचसीपी श्रीकिशन तिवारी, सिपाही सुरेन्द्र कुमार व चालक विजय कुमार और पीआरवी 408 पर सिपाही राकेश सिंह, चालक विनोद कुमार शुक्ला, रेडियो ऑपरेटर दिनेश कुमार और ऑपरेशन्स कमांडर केके यादव मौजूद थे। पुलिस आयुक्त ने सफल ऑपरेशन के लिए टीम के प्रत्येक सदस्य को एक-एक हजार रुपये व प्रशस्ति पत्र से सम्मानित करने की घोषणा की है।

पुलिस नियंत्रण कक्ष व फील्ड के पुलिस वाहनों के जबरदस्त समन्वय से आरोपियों को चंद मिनटों में पकड़ लिया गया। ऐसी कार्रवाई के लिए पुलिस नियंत्रण कक्ष को और मजबूत किया जाएगा।
  • असीम अरुण, पुलिस आयुक्त, कानपुर।

Post a Comment

0 Comments