Kanpur : वर्ष 2022 तक हट जाएगी अनवरगंज मंधना रेल लाइन

  • सेंट्रल स्टेशन पर लिफ्ट उद्घाटन के अवसर पर सांसद सत्यदेव पचौरी ने दिया आश्वासन


file photo
प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, कानपुर 

शहर की सबसे बड़ी समस्या अनवरगंज मंधना रेल लाइन वर्ष 2022 तक हट जाएगी। इसके विकल्प पर तेजी से काम चल रहा है। सोमवार को सेंट्रल स्टेशन पर लिफ्ट उद्घाटन के अवसर पर सांसद सत्यदेव पचौरी ने यह बात कही। उन्होंने कहा की कानपुर से पुणे के बीच सीधी ट्रेन चलाने की कवायद भी शुरू की जा चुकी है। जल्द ही इसका परिणाम भी देखने को मिलेगा। 

सांसद ने कहा कि अगले 10 वर्षों में यात्री सुविधाओं के मामले में कानपुर सेंट्रल स्टेशन देश के चुनिंदा रेलवे स्टेशन में एक होगा। इसके साथ ही उन्होंने आगामी भविष्य में एक और रेलवे स्टेशन का तोहफा कानपुर को दिए जाने की बात कही।

सेंट्रल स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद देवेंद्र सिंह भोले ने डीएफ़सी रुट पर बनाए गए अंडरपास से आ रही समस्याओं को उठाया। उन्होंने आगरा इटावा स्पेशल ट्रेन को कानपुर तक विस्तार देने की मांग की। इसके साथ ही झांसी इंटरसिटी को भीमसेन में रोकने की मांग भी उठाई। सांसद ने फफूंद तक मेमो शुरू करने की मांग भी की। डीआरएम मोहित चंद्रा ने कहा यात्री सुविधा में लगातार इजाफा किया जा रहा है। वेटिंग हॉल में एसी, कोच गाइडेड सिस्टम, एस्क्लेटर के काम चल रहे हैं जो जल्दी पूरे हो जाएंगे। उन्होंने कोविड-19 के दौरान किए गए रेलवे के कार्यों का भी जिक्र किया।

मेरी सहेली अभियान को इस दौरान किया गया सफल अभियान बताया। व्हीकल स्कैनिंग सिस्टम जल्द शुरू करने की बात कही। कार्यक्रम के अंत में सेंट्रल स्टेशन के सभी प्लेटफार्म पर लगाई गई लिफ्ट का सांसद सत्यदेव पचौरी ने लोकार्पण किया। इस अवसर पर महापौर प्रमिला पांडे, विधायक उपेंद्र पासवान , एमएलसी अरुण पाठक, एमएलसी सलिल विश्नोई, डिप्टी सिटीएम हिमांशु शेखर उपाध्याय, उत्तर मध्य रेलवे के अधिकारी अमित कुमार सिंह, स्टेशन अधीक्षक अनिल तिवारी उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments