गाजीपुर : गंगा का जलस्तर बढ़ने से किसानों की धड़कनें बढ़ी

  • जिला प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुटा

प्रारब्ध न्यूज ब्यूरो, गाजीपुर


गंगा का जलस्तर बढ़ने से एक बार फिर से सेमरा के कटान पीडितों की धड़कने बढ़ने लगी हैं। उन्हें फिर से कटान का भय सताने लगा है। गांव के पूरब रामतुलाई साधु राय के डेरा के आगे कटान की संभावना है। इसे देखते हुए जिलाधिकारी के निर्देश पर कटान रोकने के लिए सिंचाई विभाग ने गांव में बचाव कार्य शुरू कर दिया है। कटान वाली जगह पर बालू से भरी बोरियों को डाला जा रहा है।

मुहम्मदाबाद तहसील के सेमरा शिवराय का पूरा गांव गंगा के कटा न से प्रभावित है, आलम यह है कि गंगा के कटा न का दंश आज भी सैकड़ों परिवार झेल रहे हैं। शासन की ओर से साधु राय के डेरा व आगे कटान रोकने को लेकर 600 मीटर बोल्डर पिचिंग बनाने की कार्ययोजना पर काम शुरू कराया गया है। विलंब से एवं धीमी गति से काम होने से अभी तक बालू की बोरी डालने का कार्य पूरी तरह से नहीं हो सका। जलस्तर बढ़ने से निर्माण कार्य भी पूरी तरह से ठप पड़ गया। कुछ दिन पूर्व जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य ने गंगा के बढ़ते जलस्तर से कटान की संभावना को देखते हुए सिंचाई विभाग देवकली पंप नहर के अधिशासी अधिकारी राजेश कुमार शर्मा को निर्देशित किया था। उन्होंने कहा था कि कटान से बचाव के लिए बेहतर उपाय किए जाएं। जिलाधिकारी के निर्देश पर विभाग की ओर से बालू भरी बोरी डालकर किनारे डालने का कार्य मंगलवार से शुरू कर दिया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि गंगा का जलस्तर तेजी से बढ़ने से कटान का खतरा भी बढ़ जाएगा।

Post a Comment

0 Comments